Brinjal in hindi, benefits and uses बैंगन के फायदे और नुकसान क्या हैं ?

Spread the love

brinjal in hindi – बैगनी हो या सफ़ेद, बैगन की सब्जी और भर्ता पूरे भारत में फेमस है। पर यदि बैंगन के फायदे और नुकसान की तुलना की जाये तो लोग अक्सर इसके नुकसान ज्यादा बताने लगते हैं। पर ऐसा बिलकुल नहीं है। यदि बैगन का सेवन सही तरीके से किया जाये तो आपको baigan bharta का पूरा स्वाद और फायदे मिलेंगे और कोई नुकसान भी नहीं होगा। इसलिए यदिआप चाहते है की आप बैगन खाने के फायदे ही फायदे पाएं और नुकसान आपको छू भी न पाएं तो आपको बैगन eggplant खाने का सही तरीका क्या है जान लेना चाहिए।

आज हम बैगन के हर पहलु के बारे में विस्तार पूर्वक चर्चा करेंगे जैसे -बैगन की किस्में, बैगन को खाने का सही तरीका क्या है। वगैरह जो आपके अंदर के डर ,गलतफहमियों, और बैगन से जुड़े प्रश्नो को दूर करेगा। और आप आराम से अपने मनपसंद baigan bharta या बैगन की सब्जी का आनंद ले सकते है।

चलिए सबसे पहले जान लेते हैं बैगन के इतिहास के बारे में, और उसकी प्रजातियों और किस्मो के बारे में।

ये जानना शायद उतना जरुरी न लगे आपको परन्तु आपको हैरानी होगी जब हम कहेंगे की हर किस्म के बैगन का प्रभाव अलग होता है ठीक उसके स्वाद की तरह। तो अब आपको ये जानने की उत्सुकता आवश्य होगी।

ये भी पढ़ें- हिंगलाज के पौधे के अनोखे फायदे जो हैरान कर देंगे 

Table of Contents

बैंगन के प्रकार Types of brinjal in hindi

7 प्रकार के होते हैं बैगन। और हर बैगन का स्वाद और उसका प्रभाव अलग होता है। आइये जानते हैं बैगन के प्रकार को पूरे विस्तार से।

जापानी बैंगन Japnise brinjal in hindi

मुख्य रूप से जापान में पैदा होने वाले बैगन को जापानी बैंगन कहते हैं। ये आकार में पतला और लम्बा होता है। इसका रंग कला होता तथा चमकदार होता है। पकने पर यह यह बहा मुलायम हो जाता है।

चाइनीज़ बैंगन Chinise brinjal

बिलकुल जापानी बैंगन के जैसा ही होता है चाइनीज़ बैंगन परआकार में थोड़ा ज्यादा लम्बा होता है। इसमें मिठास कम होती है। इसमें बीज भी कम मात्रा में होते हैं तथा इसका गुदा काफी मुलायम होता है। इसका इस्तेमाल भून कर खाने में ज्यादा होता है।

इसे भी पढ़ें – आयुर्वेदिक मसाला चाय बनाने की आसान विधि 

ग्राफिटी बैगन graffiti brinjal

Brinjal in hindi, benefits and uses बैंगन के फायदे और नुकसान क्या हैं ?
Graffiti Brinjal

बैगन की ये प्रजाति इसके नाम अनुसार ही होती है इसकी सतह धारीदार होती है। इसमें छिलका काफी पतला होता है। पूरी दुनिया में ये सर्वाधिक रूप में उपलब्ध होता है। इसका आकार हो सकता है लम्बा या गोल। और इसे किसी भी तरह से पका कर खा सकते हैं।

बियांका बैंगन Bianca brinjal

यह बैंगन गोल आकार का और साइज़ में बड़ा होता है। ये बैगन की इटालियन किस्म है। बियांका बैगन का रंग सफ़ेद होता है और इसका गुदा मलाईदार व मुलायम होता है। इसके मीठे स्वाद के कारन इसका उपयोग किसी भी तरह से किया जा सकता है।

टैंगो बैगन Tango brinjal

इस प्रजाति के बैगन का आकार अंडे के सामान तथा रंग सफ़ेद होता है। इसकी बाहरी त्वचा मोटी होती है। इसे काटने के बाद इसका गुदा सख्त तथा रंग पीला होने लगता है। इसे सफ़ेद बैगन भी कहते है। सफ़ेद बैगन खाने के भी अपने अलग लाभ होते है।

इसे भी पढ़ें – खाना पकने वाले बर्तन कैसे हों

सैन्टाना बैंगन

गहरे बैंगनी रंग और आकार में पानी की बूँद जैसे इस बैंगन को सैन्टाना बैंगन कहते हैं। आकार में बड़े बैगन की इटैलियन किस्म है। मुख्य रूप से ये बैगन भून कर खाया जाता है। इसका प्रयोग एक टर्किश डिश घानौश बनाने में किया जाता है।

थाई बैंगन

यह बैंगन साइज में गोल्फ बॉल जितना छोटा होता है। इसका रंग हल्का हरा होता है। बाहरी सतह पर इसके सफ़ेद और पीली धारियां होती हैं। इसका स्वाद कड़वा और बीज कड़े होते हैं।

बैगन के बारे में कुछ मज़ेदार से रोचक तथ्य आपको जान लेने चाहिए interesting fact of brinjal in hindi

  • मुख्यतः भारतीय उपमहाद्वीप में उगने वाली सब्जी है बैगन।
  • क्या आप जानते है दुनिया में चीन के बाद बैगन की सबसे ज्यादा पैदावार भारत में ही होती है।
  • भारत में आलू के बाद दूसरे नंबर की सबसे ज्यादा खाई जाने वाली सब्जी बैगन ही है।
  • बैगन को जंगली किस्म की सभी का दर्जा मिला है। बैगन का इतिहास 800 वर्ष पुराना है।
  • गोल बैगन के अलावा 1 फुट तक लम्बाई वाली भी बैगन होते हैं।
  • बैगन दुनिया भर में खाई जाने है इसका प्रयोग स्टू, सूप, सॉस इत्यादि में किया जाता है।
  • भारत में बैगन का उपयोग ज्यादातर baigan bharta या बैगन का चोखा बनाने में किया जाता है।
  • brinjal से बदल कर बैगन का नाम eggplant हो गया है।
  • vitamin A, खनिज, vitamin c, vitamin k, vitamin B6, थायमिन, मैग्नीशियम, फास्फोरस, कॉपर, फाइबर, पोटेशियम का काफी अच्छा स्रोत होता है।

इसे भी पढ़ें -अश्वगंधा के बहुमूल्य फायदे | ashwagandha ke kya fayde hai

बैंगन खाने के फायदे पाचन के लिए Brinjal is good for digestion in hindi

फाइबर का काफी अच्छा स्रोत होता है बैगन। हमारे शरीर में पाचन अच्छा रहे इसलिए खाने में फाइबर की मात्रा काफी जरुरी होती है। फाइबर आंत में गैस्ट्रिक स्राव को तेज़ करता है। जिससे खाना जल्दी पचता है। बैगन का सेवन खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करता है जो नसों को बंद करते हैं। इससे दिल का दौरा पड़ने का खतरा कम होता है।

बैगन खाने के लाभ वजन कम करने के लिए baigan for weight loss in hindi

बैंगन के फायदे और नुकसान क्या हैं Baigan bharta khane ke fayde ya nuksan
Photo by Anna Tarazevich from Pexels

Baigan में कोलेस्ट्रॉल बिलकुल नहीं होता है। इसमें फाइबर की मात्रा भरपूर होती है जो घ्रेलिन नाम का हार्मोन नहीं बनने देता है। इस हार्मोन के न बनने से पेट भरा भरा लगता हैऔर ज्यादा खाने की इक्षा नहीं होती। इसीलिए जो लोग वजन काम करने के इक्षुक हैं उन्हें बैगन खाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें –सौंफ और अजवाइन के हैरान करने वाले फायदे

बैगन खाने का लाभ हड्डियां मजबूत बनाने में Baigan ke fayede for bone health in hindi

आस्टियोपोरोसिस के लक्षण को बैगन कम करता है और हड्डियों को मजबूत बनता है। बैगन कैल्सियम और आयरन का भी स्रोत होता है। बैगन में पोटाशियम काफी मात्रा में होता है इस हडियों में कैल्शियम के अधिग्रहण क्षमता को भी बढ़ाता है। इसी लिए बैगन को हड्डियों के विकास और मजबूती के लिए काफी अच्छा माना जाता है।

एनीमिया को दूर करते हैं बैंगन के फायदे anemia me baigan ke labh hindi me

benefits of brinjal in hindi – हमारे शरीर के लिए आयरन बहुत जरुरी है। यदि खून में आयरन की कमी हो जाये तो एनीमिया हो जाता है।बैंगन के फायदे और नुकसान की बात करें तो बैगन आयरन का काफी अच्छा स्रोत होता है जिसके नियमित सेवन से खून में RBC की मात्रा बढ़ती है और इससे एनीमिया की परेशानी में लाभ मिलता है।

दिमाग तेज़ करते हैं बैगन के औषधीय गुण Eggplant is good for brain in hindi

बैगन में पाए जाने वाले फाइटोनुट्रिएंट्स दिमाग की रचनात्मक क्षमता बढ़ाते हैं। बैगन मस्तिष्क के विकास और स्वास्थ्य के लिए काफी प्रभावी होता है। बैगन मस्तिष्क में अधिक ऑक्सीजन युक्त रक्त का प्रवाह तेज़ करता है। जिससे मस्तिष्क में सोचने और विचार करने की क्षमता में तेज़ी आती है।

यह भी पढ़ें – समुद्री झाग के चमत्कारी लाभ | Samundri jhag ke use

ह्रदय को स्वस्थ रखने के लिए बैगन का उपयोग Brinjal is good for heart patients in hindi

दिल को स्वस्थ रखने के लिए बैंगन खाना जरुरी है। बैगन शरीर में मौजूद खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करता है और अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाता है। किसी भी स्वस्थ ह्रदय के लिए नियंत्रित होना बहुत जरुरी होता है।

बैगन में बैंफलेवोनॉइड्स पाए जाते है जो ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है। इस तरह ह्रदय के स्वास्थ में सुधार होता है।

डायबिटीज़ से बचने के लिए बैगन खाना चाहिए Baigan khane ke fayede for diabetes in hindi

बैगन में भरपूर मात्रा में फाइबर होता है तथा कार्बोहाइड्रेट होता है। ये डाइबिटीज़ को कंट्रोल करने में मदद करता है। बैगन इन्सुलिन और ग्लूकोज़ को बैलेंस करता है। इसीलिए बैगन के सेवन से डाइबिटीज़ कंट्रोल रहता है।

इसे भी पढ़ें – रोटी Roti के बारे में संपूर्ण ऐतिहासिक जानकारी

बालों के लिये बैंगन के फायदे,नहीं होते है नुकसान Hair benefits of brinjal in hindi

बैगन में काफी मात्रा में विटामिन, खनिज इत्यादि होते हैं ये बालों को अंदर से मज़बूत बनाते हैं। वैसे एक बड़ा ही आसान नुस्खा है जिससे आपके बालों की ग्रोथ अच्छी होगी और बाल और बज़बूत बनेंगे।

एक बैगन कद्दूकर कर लें और इसे अपने सर पर लगा के करीब 10-15 मिनट तक मसाज करें। अब अपने बालों में शैम्पू कर लें। बेहतर परिणाम के लिए सप्ताह में दो बार इसे ज़रूर करें।

बैगन के लाभ त्वचा की जवां खूबसूरत बनाने के लिए brinjal benefits for skin in hindi

baigan में इतने सारे विटामिन्स और खनिज होते हैं जिनसे त्वचा को बहुत लाभ होता है। बैगन में एंटी एजिंग गुण भरपूर मात्रा में होते हैं। जिसे त्वचा में बढ़ती उम्र का लक्षण कम दिखाई देता है।

बैगन त्वचा को सॉफ्ट और चिकना बनता है। सर्दियों में ठण्ड से नमी कम को जाती है और त्वचा में खुजली की समस्या बढ़ जाती है। ऐसे में बैगन त्वचा को हाइड्रेट रखने में काफी मददगार साबित होता है। त्वचा के लिए बैंगन के फायदे ज्यादा हैं और नुकसान कम।

इसे भी पढ़ें – करेला के फायदे और उपयोग | Karela ke Fayde and Upyog

सुन्दर त्वचा के लिए बैगन का घरेलू उपाय beauty benefits of brinjal in hindi

सुन्दर त्वचा के लिए बैंगन का उपयोग कुछ घरेलु नुस्खों द्वारा किया जा सकता है। इसके लिए 1 छोटा बैगन, 2 चम्मच एलोवीरा जेल तथा 1 चम्मच शहद मिला कर पीस लें। अब इस पिसे हुए बैगन के पास्ट को अपने चेहरे पर लगाएं और 15-20 मिनट ऐसे ही लगा रहने दें। अब इसे कपडे से साफ़ करके थोड़े गर्म पानी से चेहरा धो लें। हफ्ते में 1 बार ये उपाए जरूर करें। आपकी त्वचा काफी अच्छी हो जाएगी।

बैंगन खाने के नुकसान side effect of brinjal in hindi

अब तक तो हमने आपको बैंगन के फायदे बताए और अब बैंगन के नुकसान के बारे में बात करेंगे। बैगन की सब्जी हो या Baigan bharta भले ही इसमें इतने सारे गुण और फायदे है पर इनके नुकसान भी काफी सारे हैं। पर यदि किसी भी चीज़ के नकारात्मक पहलुओं के बारे में जान लें तो इनके दुष्प्रभाव से बचा जा सकता है। तो आइये जानते हैं की कब और किन स्थितियों में बैगन का सेवन करना नुकसानदायक हो सकता है। जिससे आपकी समस्या बढ़ सकती है।

बवासीर में न करें बैगन का सेवन

यदि आपको है खूनी बवासीर है तो ऐसे में बैगन का सेवन करना बिलकुल भी ठीक नहीं है। बैगन आपकी समस्या को और भी बढ़ा सकता है।

इसे भी पढ़ें – कामलता के फूलों की ऐसी जानकारी जो और कही नहीं मिलेगी

एंटी डिप्रेशन या नींद की दवाओं के साथ बैंगन के नुकसान Side effect of brinjal with medicines in hindi

Brinjal in hindi, benefits and uses बैंगन के फायदे और नुकसान क्या हैं ?
बैंगन के फायदे और नुकसान क्या हैं ?

बैगन का सेवन नींद की दवा लेने वालों या एंटी-डिप्रेशन टैबलेट लेने वालों को नहीं करना चाहिए। बैगन के सेवन से इन दवाओं का असर काम होने लगता है।

मोटे व्यक्तियों को बैगन का सेवन वर्जित

फ्राईड बैगन में फैट काफी मात्रा में होता है इसलिए मोटे लोगों को बैगन खाने से बचना चाहिए अन्यथा उनका वजन और बढ़ने लगेगा।

एलर्जी होने पर

एलेर्जी से ग्रसित होने पर बैगन का प्रयोग हानिकारक हो सकता है। इसके सेवन से एलेर्जी और बढ़ सकती है।

आंखों में परेशानी होने पर

जिन्हे आंखों की समस्या होती है जैसे आँखों में जलन ऐसे में भी प्रयोग करना हानिकारक हो सकता है।

भून कर खाएं बैगन

बैगन एक ऐसी सब्जी है जिसे तल कर खाना नुकसानदायक होता है क्यों की तलने से बैगन में व्याप्त सारे पोषक तत्व समाप्त हो जाते हैं। इसी लिए या तो भून कर या उबाल कर ही खाया जाता है। यही वजह है की Baigan bharta बैगन की सबसे लोकप्रिय डिश है।

आशा करते हैं की आपको हमारा ये लेख benefits of brinjal in hindi, uses बैंगन के फायदे और नुकसान क्या हैं काफी पसंद आया होगा यदि आपके कोई सुझाव या प्रश्न हों तो कमेंट में जरूर लिखें।

इसे भी पढ़ें –सौंफ और अजवाइन के हैरान करने वाले फायदे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *