Cypress vine uses and benefits स्टार महिमा या कामलता के उपयोग व फायदे

Spread the love

cypress vine plant सरु की बेल / स्टार महिमा/ गणेश बेल या फिर कामलता के नाम से पुकारी जाने वाली यह बेल आयुर्वेदिक जड़ी- बूटी दुनिया की सबसे सुन्दर जड़ी-बूटी मानी जाती है। आज हम कमलता किस तरह की बेल है Cypress vine uses and benefits स्टार महिमा या कामलता के उपयोग व फायदे के बारे में विस्तार से जानेंगे।

कामलता या cypress vine हरिणपदि कुल का पौधा है। इस पौधे या सरु की बेल स्वतः उगने वाला पौधा है पर कमलता के बीजों को online भी ख़रीदा जा सकता है। इसका वानस्पतिक नाम Ipomoea quamoclit है। यह बेल कहीं भी आसानी से उगाई जा सकती है। यह फेंस या पेड़ो पर आसानी से चढ़ाई जा सकती है।

Cypress vine uses and benefits स्टार महिमा या कामलता के उपयोग व फायदे

कामलता या cypress vine के उपयोग और फायदे जानकार आप हैरान रह जायेंगे। वैसे तो आयुर्वेदा में सभी वनस्पतियों को किसी न किसी रोग में जड़ी-बूटी के रूप में उपयोग किया जाता है। परन्तु जानकारी के आभाव में या आधुनिकता की भाग दौड़ ने इन आयुर्वेदिक जड़ी -बूटियों के ज्ञान को धूमिल कर दिया है।

इसे भी पढ़ें –कहीं आप या आपके आसपास कोई डिप्रेशन का शिकार तो नहीं ? जानें इससे बचने का तरीका | Depression Treatment at Home

Cypress vine flower को भारत में सरु की बेल या कामलता के फूलों के नाम से पुकारा जाता है जिसका वानस्पतिक नाम Ipomoca quamoclit होता है। यह हरितपदी कुल की बेल है।

अधिकतर लोगों को इस बेल के सम्बन्ध में जानकारी नहीं होती। तो इससे सम्बंधित पूछे जाने वाले सवालों को भी मैं इस आर्टिकल में शामिल कर रही हूँ जैसे –

Q. What is meaning of cypress vine ?

A. एक वानस्पतिक बेल जिसे आयुर्वेद में जड़ी- बूटी के रूप में प्रयोग किया जाता है।

Q. What is the english name of cypress vine flower?

A. इसके दूसरे नाम भी हैं परन्तु वानस्पतिक नाम Ipomoca quamoclit है।

Q. How do you grow cypress vine?

इसके बीजो को छटक देने भर से इसके पौधे उग जाते हैं।

सरु की बेल /कमलता का पौधा और कमलता के फूलों का परिचय

आज हम आपको इस बेल और इसके फूलों से परिचित कराएँगे।

सरु बेल के फूल छोटे- छोटे नाजुक तथा tubular होते हैं। जो लगभग 1.5 इंच लम्बे होते हैं और सामने से 5 star जैसे दिखते हैं जिसके कारण इन्हे स्टार महिमा भी कहते हैं।

इसे भी पढ़ें – मदार (आक ) के पौधे के आयुर्वेदिक फायदे | Aak ke paudhe ke Ayurvedic fayde

Cypress vine एक गुनगुनी जगह को पसंद करने वाला पौधा होता है। और वर्ष भर में सैकड़ों फूलों और हज़ारों बीजों का उत्पादन करता है।

सरु की बेल काफी तेजी से बढ़ती है।

सरु की बेल की छटाई बहुत आवश्यक हो जाती है अन्यथा यह बहुत आक्रामक गति से बढ़ कर सभी जगह फ़ैल जाती है।

Q. What are name of cypress vine flowers?

इस पौधे को अलग अलग नामो से पुकारा जाता है। सामान्यतः यह cypress vine के नाम से ही जानी जाती है पर कई लोग इसे और भी नामों से बुलाते हैं जैसे –

  1. कामलता
  2. बूतली
  3. लोटा
  4. विष्णु कांति
  5. आकाशमुला
  6. नारायणी
  7. जयंती आदि नामो से पुकारा जाता है।

सरु की बेल के उपयोग/फायदे Ipomoea quamoclit/ cypress vine benefits in Hindi

सदाबहार रहने वाली सरु की बेल स्वतः ही उगने वाला पौधा है। पर इसके बीजों से भी इसे उगाया जा सकता है। यह फेन्स या वृक्षों पर आसानी से चढ़ जाती है।

cypress vine, cardinal creeper, morning glory या cardinal vine उत्तरी -दक्षिणी अमेरिका से नॉर्दन मैक्सिको में अधिकांश पाया जाता है। यह 3-10 feet तक लम्बाई वाली बेल होती है।

फर्न जैसी पत्तियों वाली कामलता बेल की पत्तियां 25-102 mm लम्बी होती हैं।

इसे भी पढ़ें – करेला के फायदे और उपयोग | Karela ke Fayde and Upyog

cypress vine flowers -red, pink और white color के होते हैं।

इसकी crimson या सुर्ख लाल रंग वाली प्रजाति काम ही पायी जाती है।

हमिंग बर्ड को लुभाता है cypress vine या कामलता का पौधा।

आयुर्वेद में cypress vine पौधे का प्रयोग cypress vine uses in Ayurveda Hindi

आयुर्वेद में कामलता का प्रयोग बहुत सारी औषधियाँ बनाने में किया जाता है। ये वायरस सम्बन्धी रोगो को दूर करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।Cypress vine uses and benefits काफी ज्यादा है आयुर्वेद में।

कामलता के फूल एवं पत्ती का औषधीय प्रयोग बहुलता से होता है।

कामलता या सरु बेल में कैंसर रोधी गुण भी पाए जाते हैं।

डाइबिटीज़ में लाभकारी होता है व शुगर लेवल को कंट्रोल करता है।

इसे भी पढ़ें- रोटी Roti के बारे में संपूर्ण ऐतिहासिक जानकारी

एंटी ऑक्सीडेंट गुण भरपूर होते हैं सरु की बेल में।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के कारण cypress vine का चिकित्सा में काफी उपयोग किया जाता है।

प्रजनन की क्षमता बढ़ने के गुण विद्यमान होते हैं स्टार महिमा के फूलों में।

Infection पेशाब सम्बन्धी रोगों के लिए भी कामलता काफी प्रभावी औषधि मानी जाती है।

पेट के दर्द और योनि विकारों को शांत करती है cypress vine

कामलता या सरु की बेल में एंटी बॉडी प्रॉपर्टी पायी जाती है। अतः यह इम्युनिटी बूस्ट के लिए काफी लाभकारी होती है।

cypress vine herb का इस्तेमाल शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली का विस्तार करने के लिए किया जाता है।

इसे भी पढ़ें – कहीं आप गलत बर्तन में तो खाना नहीं बना रहे हैं ?

कामलता के औषधीय प्रयोग cypress vine medicinal uses & benefits in Hindi

खूनी बवासीर , सर्पदंश, ब्रैस्ट पेन, डाइबिटीज़, बुखार इत्यादि में भी कामलता काफी प्रभावी औषधि है।

मवाद वाले फोड़े a group of pus-filled bums में पत्तियों को कुचल कर लगाने से आराम मिलता है।

कामलता की जड़ जहर को काट सकती है।

सर्प दंश में इससे उपचार किया जाता है।

गले सम्बन्धी विकार या आवाज न निकलने पर भी cypress vine की पत्तियों का उपयोग किया जाता है।

ल्यूकोरिया या सफ़ेद पानी की समस्या में कामलता के फायदे vishnu kanti benefits in Leucorrhoea

महिलाओं की योनि से सफ़ेद पानी जैसा गाढ़ा तरल पदार्थ निकलने की अवस्था में या योनि में यीस्ट इन्फेक्शन होने पर /हार्मोनल इम्बैलेंस की स्थिति में 10gm cypress vine की जड़ को 100ml पानी में उबालकर पीने से योनि मार्ग के संक्रमण ख़त्म हो जाते हैं।

यह 2 ounce पानी रोज पीना चाहिए इससे गुप्त रोगों में आराम मिलता है।

इसे भी पढ़ें – एलोवेरा (घृतकुमारी ) से रोकिये बालों का झड़ना, त्वचा होगी ग्लोइंग, और मोटापा होगा कम

बालों की समस्या के लिए cypress vine का उपयोग Kaamlata benefits in hair problem in Hindi

बालों की समस्या के लिए cypress vine का उपयोग Kaamlata benefits in hair problem in Hindi
Photo by Photo Grapher from Pexels

आजकल बालों की समस्या काफी आम हो चुकी है। बाल झड़ने या गंजापन के कई सारे उत्तरदायी कारण होते हैं। जैसे मौसम में बदलाव, हार्मोन्स में बदलाव या पानी में संक्रमण आदि

डैंड्रफ या बालों के पतलेपन के लिए या असमय सफ़ेद होते बालों की समस्याएं यदि आपको परेशां करती हैं तो cypress vine plant की root (जड़) को भृंगराज की पत्तियां, गुड़हल की पत्तियां, करि पत्तों, मेहँदी की पत्तियां इत्यादि को तेल में उबालकर इस तेल को रोजाना इस्तेमाल करने से बालों सम्बन्धी सभी समस्याए जैसे गंजापन, बाल झड़ना, डैंड्रफ और इन्फेक्शन दूर करता है।

ट्यूमर होने पर कामलता का प्रयोग cypress vine benefits in tumor in Hindi

cypress vine पाउडर बनाकर tumor या फोड़े पर लगाने से तुरंत आराम मिलता है।

इसे भी पढ़ें –कटहल के 15 फ़ायदे और नुकसान | kathal-ke-fayede-aur-nuksan

त्वचा सम्बन्धी परेशानी में कामलता का प्रयोग cypress vine benefits in skin problems in Hindi

खुजली, रैशेस, स्किन का पैची होना, झुर्रियां, झाइयां, एजिंग की समस्या डलनेस या त्वचा सम्बन्धी किसी भी समस्या में कामलता या cypress vine की पत्तियों को कुचल कर प्रभावित क्षेत्र में लगाने से आराम मिलता है।

मूत्र विकार का घरेलू इलाज cypress vine benefits in urinary disorder in Hindi

मूत्र सम्बन्धी विकार में cypress vine बड़ी ही रामबाण औषधि है। पेशाब में कमी होने पर या प्रोस्टेट बढ़ने पर काफी लाभकारी है कामलता।

इसे भी पढ़ें – समुद्री झाग के चमत्कारी लाभ

कामलता के इस्तेमाल की विधि how to use cypress vine in Hindi

कामलता की एक मुट्ठी पत्तियों को काली मिर्च के साथ पीस कर छोटी छोटी गोलियां बना लेनी चाहिए। यह महिला एवं पुरुषों के लिए समान रूप से लाभकारी है।

इन गोलियों का 7 दिन तक लगातार सेवन करने से coneria ठीक हो जाता है।

आशा करते हैं की oddstree का ये लेख Cypress vine uses and benefits स्टार महिमा या कामलता के उपयोग व फायदे आपको पसंद आया होगा। यदि इस लेख के विषय में आपकी कोई राय या प्रश्न हो तो कमेंट में जरूर लिखें।

इसे भी पढ़ें –हिंगलाज पौधे के आश्चर्यजनक तथ्य कर सकते हैं आपकी सेहत दुरुस्त

12 thoughts on “Cypress vine uses and benefits स्टार महिमा या कामलता के उपयोग व फायदे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *