खांसी का इलाज घरेलू नुस्खे से चुटकियों में करें Remedies for Cough in Hindi

Spread the love

खांसी का इलाज घरेलू नुस्खे से चुटकियों में करें Remedies for Cough -आप एक डॉक्टर नहीं हैं जो खांसी ठीक कर पाएं। अगर आप भी ऐसा सोचते हैं तो ये गलत है। कुछ मर्ज घरेलु नुस्खों का प्रयोग करके आसानी से ठीक किये जा सकते है।

क्या आप जानते हैं खांसी आने के क्या कारण हैं। यदि आप इन कारण को समझ लें तो खांसी ठीक करना आपके लिए चुटकियों का काम हो जायेगा। खांसी का इलाज घरेलु नुस्खों से आसानी से किया जा सकता है। पर पहले ये जानते हैं की खांसी आने का मुख्या कारण क्या है।

खांसी आने का सबसे बड़ा कारण कफ या बलगम होता है। पर बलगम शरीर में बनने के लिए क्या वजह है ? बलगम बनता है सर्दी या जुकाम होने से। तो पहले हम जानेंगे की जुकाम क्यों होता है और कैसे इसे ठीक किया जाये।

यदि आप सर्दी जुकाम ठीक कर लेते हैं तो खांसी पर काबू पाया जा सकता है। तो खांसी का घरेलु इलाज जानने के पहले समझते हैं सर्दी जुकाम के बारे में।

सर्दी-जुकाम होने के प्रमुख कारण

खांसी का इलाज घरेलू नुस्खे से चुटकियों में करें Remedies for Cough in Hindi
सर्दी-जुकाम होने के प्रमुख कारण

बदलते मौसम में जुकाम-खाँसी, एलर्जी और साँस के रोग अधिक होते है। सर्दी की लापरवाही से जुकाम हो जाता है। और कफ बनकर साँस के रोग हो जाते है। शारीरीक रूप से कमजोर लोगों को सर्दी के दुष्प्रभाव अधिक होते है। ठण्ड में दिल के दौरे पड़ने की सम्भावना ज्यादा रहती है। क्योंकि सर्दी से दिल में सिकुड़न आती है। बुखार, खाँसी जुकाम, दस्त, वायरल, बुखार, त्वचा में खुश्की होती है।

इसे भी पढ़ें – करक्यूमिन के फायदे, हल्दी के अर्क में मिलने वाला करक्यूमिन है एक चमत्कारी औषद्यि

सर्दी-जुकाम के लक्षण

लक्षण-जुकाम हमें श्वसन-मार्ग के ऊपरी हिस्सों में आने वाली सूजन से होता है। जुकाम में बन्द नाक खोलने वाली, नाक में डालने वाली दवाओं का उपयोग नहीं किया जाना चाहिए। इसे रक्तचाप बढ़ता है और रक्त-वाहिनियाँ सिकुड़ जाती है। जुकाम बिगड़ जाने से मन्द ज्वर, अरुचि, कफ, खाँसी, बलगम गिरना, सिर दर्द आदि अन्य रोग उत्पन्न हो जाते हैं।

वर्षा में भीगना, ठण्ड लगना, कड़ी धूप में घूमना और पानी पीना रात्रि-जागरण, अपच, एकाएक पसीना बन्द करना, स्वच्छ वायु का अभाव गर्म पानी से स्नान तथा सर्दी के प्रति भय, शीतल पदार्थों का सेवन इन तात्कालिक कारणों से भी जुकाम होता है।

इसे भी पढ़ें –गोंद के लड्डू ताकत से भरपूर सुस्ती रक्खे दूर

सर्दी-जुकाम के घरेलु उपाय Home remedy for cold & cough in Hindi

सर्दी जुकाम में दूध, दही नहीं लेना चाहिए। यदि दूध लेना हो तो मोटी इलायची, दो पीपल, दो छुहारा या चार खजूर-इनमें से कोई एक दूध में उबाल कर दूध पीयें। सर्दी जुकाम को ठीक करने के लिए विटामिन ‘सी’ का उपयोग करें।

जुकाम यदि तत्कालिक कारणों से हो तो गरम जल पीयें और भोजन न करें, इससे जुकाम ठीक हो जायेगा। तात्कालिक कारणों वाला जुकाम सामान्य होता है। एक दिन जुकाम होता है, दूसरे दिन तेज नाक बहता है, तीसरे दिन पककर ठीक हो जाता है।

जुकाम की खान-पान के स्थान पर गरम और खुश्क दवाओं से चिकित्सा की गई तो जुकाम बढ़ जायेगा। इससे और भी रोग पैदा हो जायेंगे।

इसे भी पढ़ें – Amritdhara सर्दी जुकाम का घरेलू उपचार /कपूरधारा/जीवन रसायन बनाने की विधि

सर्दी-जुकाम के घरेलू नुस्खे

खांसी का इलाज घरेलू नुस्खे से चुटकियों में करें Remedies for Cough in Hindi
सर्दी-जुकाम के घरेलू नुस्खे
  1. सुहागे को तवे पर फुलाकर बारीक पीसकर शीशी भर लें। नजला-जुकाम होने पर आधा ग्राम (बच्चों के लिए आधी मात्रा) गरम पानी से सुबह दोपहर शाम लेने से पहले ही दिन अन्यथा दूसरे तीसरे दिन तो रोग का नामोनिशान न रहेगा। यह उपाय चमत्कारपूर्ण है। हल्दी पिसी हुई मिलाकर लेने से जुकाम, बुखार में लाभ होता है।
  2. सात काली मिर्च और सात बताशे पाव भर जल में उबाले। चौथाई रहने पर इसे गरम-गरम पी लें और सिर तथा सारा बटन ढ़ककर दस मिनट तक लेट जाऐं। सुबह खाली पेट और रात सोते समय दो दिन प्रयोग करे। दो दिन में ही नजलें में आराम हो जायेगा।
  3. जिन्हें प्रायः जुकाम रहता है, उन्हें आँवले का अधिक प्रयोग करना चाहिए।अगर नाक से पानी बहता हो तो गर्म पानी की भाप को नाक से खीचें नाक से पानी बहना बन्द हो जाएगा।
  4. जुकाम में 15 ग्राम सौंफ, 5 लौंग आधा किलों पानी में उबाले, चौथाई पानी रहने पर देशी बुरा या चीनी मिलाकर छूट-बूंट पीये।
  5. यदि जुकाम में कफ गिरता हो तो नित्य तीन बार एक चम्मच पिसी हुई हल्दी को गरम पानी से फांक लें।
  6. एक कप गर्म दूध में 10 काली मिर्च पिसी हुई, आधा चम्मच
  7. तेज जुकाम हो तो एक गिलास उबलते हुए गरम पानी में एक नींबू का रस और थोड़ा-सा शहद मिलाकर रात को पीयें।
  8. जुकाम बार-बार होता है तो-11 मुनक्का, 11 काली मिर्च,
  9. 5 बादाम भिगों कर छील लें। फिर इन सबको पीस कर 25 ग्राम मक्खन में मिलाकर रात को सोते समय खायें प्रात: दूध में पीपल, काली मिर्च, सौंठ डाल कर उबला हुआ दूध पीयें। यह कई महीने करें। जुकाम स्थाई रूप से ठीक हो जायेगा।

इसे भी पढ़ें- अजवाइन के सत के 21 फायदे उपयोग और नुकसान

खांसी का इलाज घरेलू नुस्खे से कैसे करे

खासी ठीक करने के कई घरेलु उपाय हैं। ये उपाय करने से तुरंत आराम मिलता है। लेकिन खांसी का इलाज घरेलु नुस्खे से करने के पहले आइये जानते हैं की खांसी क्यों होती है। खांसी कितने प्रकार की होती हैं।

खाँसी दो प्रकार की होती है।

  1. सूखी खांसी
  2. कफ वाली खांसी

सूखी खाँसी नई होती है एवं कठिनाई से थोड़ा-थोड़ा थूक आता है। तथा कफ वाली तर एवं जरा सा खाँसने से ही कफ निकलता है। पुरानी खाँसी में प्रायः कफ होता है।

हमें खांसी क्यों आती है? (खांसी का इलाज घरेलू नुस्खे से)

खांसी का इलाज घरेलू नुस्खे से चुटकियों में करें Remedies for Cough in Hindi
खांसी

जुकाम होना खाँसी होने का प्रमुख कारण है। हमारी सांस की नाली में बहुत महीन रेशे होते हैं। जब जुकाम बढ़ जाता है। कफ या बलगम गले में आने लगता है। इन रेशो पर कफ आने से हमें परेशानी होती हैं। इसी कफ को निकलने के लिए खांसी आती है।

खांसी का इलाज घरेलू नुस्खे द्वारा

  • भुनी हुई फिटकरी 10 ग्राम और देशी खाँड 100 ग्राम दोनों को बारीक पीसकर आपस में मिला लें और बराबर मात्रा में चौदह पुड़िया बना लें। सूखी खाँसी ziddi khansi ka ilaj में 125 ग्राम दूध के साथ एक पुड़िया नित्य सोते समय लें। गीली खाँसी में 125 ग्राम गर्म पानी के साथ एक पुडिया नित्य सोते समय लें।
  • बलगमी खाँसी हो तो, अदरक का रस और शहद, बराबर मात्रा में मिलाकर एक-एक चम्मच की मात्रा से मामूली गर्म करके दिन में तीन-चार बार चाटने से तीन-चार दिन में ही कफ-खाँसी ठीक हो जाती है। बच्चों को दिन में दो तीन बार एक दो ऊंगली ही चटा दें तो आराम मिल जाएगा।
  • पिसा हुआ आँवला एक चम्मच शहद में मिलाकर नित्य दो बार चाँटे।
  • काली मिर्च और मिश्री मुँह में रखे, इससे गला भी खुला जाता है।
  • पाँच काली मिर्च और चौथाई चम्मच पिसी हुई सौंठ को एक चम्मच शहद में मिलकर सुबह-शाम चाटने से कफ वाली खाँसी ठीक होती है।
  • सूखी खाँसी हो तो 15 ग्राम गुड़ और 15 ग्राम सरसों का तेल मिलाकर चाटने से लाभ होता है।

इसे भी पढ़ें – क्यों है चौलाई खाना इतना ज़रूरी ? चौलाई के फायदे अगर जान गए तो रोज खाएंगे लाल साग।

बलगम वाली खांसी का इलाज घरेलू नुस्खे द्वारा

  • raat ko sukhi khansi ka ilaj – रात की खाँसी balgam wali khansi हो तो एक बहेड़े के छिलके का टुकड़ा अथवा डोले हुए अदरक का टुकड़ा सोते समय मुख में रखकर चूसते रहने बलगम साफ करने के लिए से बलगम आसानी से निकल जाता है। खांसी का इलाज घरेलु नुस्खे से ऐसे करें।
  • बलगम साफ करने के लिए आँवला सूखा और मुलहठी को अलग-अलग बारीक करके चूर्ण बनालें और मिलाकर रख लें। इसमें से एक चम्मच चूर्ण दिन में दो बार खाली पेट प्रातः सायं सप्ताह-दो सप्ताह आवश्यकतानुसार लें। छाती में जमा हुआ बलगम साफ हो जायेगा।
  • यदि कफ छाती पर सूख गया हो khansi ke sath balgam aana तो अलसी (तीसी) को कुचलकर पानी में औटायें। जब पानी एक तिहाई रह जाय, उसे छानकर मिश्री मिलाकर रखें। अब इस काडे को एक-एक चम्मच एक-एक घण्टे के अन्तर से दिन में कई बार पिलाएं। इससे बलगम छूट जाता है। जब तक छाती साफ न हो, इसे पिलाते रहें।

खांसी दूर करने के घरेलु नुस्खे

  • ब्रोंकाइटिस (Bronchitis) श्वांस नली में सूजन एवं दर्द होने सोंठ, काली मिर्च और हल्दी-तीनों वस्तुओं का अलग-अलग चूर्ण बना लें। प्रत्येक का चार-चार चम्मच चूर्ण लेकर मिला लें और इस चूर्ण को आधा चम्मच पानी के साथ दिन में दो बार लें।
  • छाती का दर्द तथा पसली चलने पर-एक चम्मच अजवायन 250 ग्राम पानी में उबालें, चौथाई शेष रहने पर छानकर रात को नियमित पीने से पाँच-सात दिन में छाती का दर्द नष्ट हो जाता है।सोते समय गरम-गरम पीकर ओढ़कर सो जायें। दिन में दो बार वह काढ़ा दो चम्मच की मात्रा से दिन में दो बार निरन्तर कुछ दिन देने से पसली चलना भी ठीक हो जाता है।
  • हींग को गर्म पानी में घोलकर पसलियों में लेप करे। सौंठ 30 ग्राम कूट कर आधा किलों पानी में उबाल कर छान कर दिन में थोड़ा-थोड़ा बार-बार पिये। पसली का दर्द ठीक हो जायगा।

सर्दी खांसी का घरेलू इलाज है अजवाइन का काढ़ा

अजवायन का यह काढ़ा यकृत, तिल्ली, हिचकी, उल्टी खट्टी डकारें, पेट की गुडगुड़ाहट, मूत्र विकार एवं पथरी रोग का भी विनाशक है। बदलते मौसम में होने वाले जुकाम की शिकायत भी दूर हो जाती है। बच्चों की पसली चलने पर-दूध में 5 तुलसी की पत्तियाँ और एक लौंग उबालकर पिलाने से बच्चों की पसली चलना बन्द हो जाती है।

इसे भी पढ़ें – आयुर्वेदिक मसाला चाय बनाने की आसान विधि 

Cover photo created by jcomp – www.freepik.com

One thought on “खांसी का इलाज घरेलू नुस्खे से चुटकियों में करें Remedies for Cough in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *