मेनिक्योर पेडीक्योर मैजिक अब होगा घर manicure pedicure at home in hindi

Spread the love

नेल पेंट की खूबसूरती तभी उभरती है, जब आपके हाथ-पैर मेनिक्योर और पेडीक्योर किए हुए हों। तो चलिए जानते हैं oddstree से की घर पर कैसे करे मेनिक्योर पेडीक्योर manicure pedicure at home in hindi

घर पर कैसे करें मेनिक्योर पैडीक्योर Manicure pedicure at home in hindi

Manicure pedicure at home in hindi
Manicure pedicure at home in hindi

मेनिक्योर और पेडीक्योर के लिए टब में गुनगुना पानी तैयार करें। इसमें शैपू, नमक, ग्लिसरीन की बूंदें और नीबू का रस मिलाएं। हाथ-पैर के नाखूनों पर क्यूटिकल क्रीम लगाएं और तैयार पानी में 15 मिनट तक हाथ-पैर डुबो कर रखें।

एड़ियों और हथेलियों को प्यूमिक स्टोन से रगड़ कर डेड स्किन निकालें और पानी से निकाल कर सूखे तौलिए से पोंछ लें क्यूटिकल पुशर से क्यूटिकल्स पीछे की ओर धकेलें। क्यूटिकल कटर से क्यूटिकल्स के आसपास की डेड स्किन काट लें।

इसे भी पढ़ें –घर पर फेस पाउडर कैसे बनायें

स्मार्ट ट्रीटमेंट After manicure pedicure at home in hindi

अकसर महिलाओं को शिकायत होती है कि मेनिक्योर कराने के बाद उनके क्यूटिकल्स ड्राई हो जाते हैं, उसके बाद फटने लगते हैं। ऐसे में वे ध्यान रखें कि जब क्यूटिकल्स पुशर से क्यूटिकल्स पुश करें, तो क्यूटिकल्स पर से डेड स्किन पूरी तरह निकाल दें।

मेनिक्योर कराने के बाद 5 दिन तक नाखूनों के आसपास क्यूटिकल क्रीम लगाएं। इससे रूखापन दूर होगा और मेनिक्योर का पूरा असर हाथों पर देखने को मिलेगा।

नाखूनों के आसपास का कालापन दूर करने के उपाय cuticles ko saaf kaise kare

क्यूटिकल्स की एक्स्ट्रा केअर
क्यूटिकल्स की एक्स्ट्रा केअर

क्यूटिकल्स के आसपास की जगह काली हो गयी है, तो जब भी मेनिक्योर या स्क्रब करें, तो दूध या दही का प्रयोग करें। शहद, संतरे का रस, जौ का आटा व दही मिला कर पेस्ट तैयार करें और पूरे हाथ व पैरों की उंगलियों और क्यूटिकल्स पर मलें। दस मिनट यों ही रहने दें।

अगर आपके हाथ बहुत रूखे हैं, तो गुनगुने पानी मिले दूध में हाथ डुबो कर रखें। चाहें, तो इसमें शहद की कुछ बूंदें या लैवेंडर ऑइल डालें।

इसे भी पढ़ें –बेदाग़ और निखरी त्वचा के लिए करें बस ये आसान सा उपाए

क्यूटिकल्स क्लीनिंग Cuticles cleaning in manicure-pedicure at home in Hindi

नीबू, चीनी का बूरा और कुछ ऑलिव ऑइल की बूंदों को मिला कर हाथों, उंगलियों और क्यूटिकल्स के आसपास चीनी पिघलने तक मलें। गुनगुने पानी से धो लें और हैंड क्रीम लगाएं। हैंड क्रीम नहीं है, तो मलाई लगा सकती हैं।

इससे डेड स्किन निकल जाएगी व कालापन दूर होगा और चमक आएगी। चाहें, तो आप नहाने से पहले पैरों पर भी इसका प्रयोग कर सकती हैं।

स्क्रब के लिए दही और जौ के आटे व पके केले का इस्तेमाल करें। इससे बहुत रूखे हाथ भी मुलायम हो जाएंगे।

स्क्रब के बाद हाथ-पैर धो कर सूखे तौलिए से पोंछे। एड़ियों पर फुट स्क्रेपर का इस्तेमाल करें, एड़ियां मुलायम हो जाएंगी। उसके बाद कोका या शिया बटर युक्त मॉइश्चराइजर से हाथ और पैरों की मसाज करें।

इसे भी पढ़ें- लैक्टो कैलामाइन लोशन घर पर बनाने की विधि

क्यूटिकल्स की एक्स्ट्रा केअर cuticle ki care karne ka tarika in hindi

ज्यादातर पैरों पर रूखेपन की समस्या होती है। कई बार यह एक्जिमा का रूप भी ले लेता है। सही और रिच मॉइश्चराइजर के इस्तेमाल इस तरह की समस्या नियंत्रित हो सकती है। बार-बार मृत कोशिकाओं की मोटी परतें जमने की समस्या भी दूर होती है।

पैरों की तुलना में हाथों के क्यूटिकल्स के फट कर खून निकलने की शिकायत होती है। सख्त डिटरजेंट से बरतन या कपड़े धोने पर इस तरह की दिक्कत होती है। ऐसे में क्यूटिकल्स पर नियमित रूप से एंटीसेप्टिक लोशन या लेनोलिन युक्त क्रीम लगाएं। इससे कटे-फटे क्यूटिकल्स के माध्यम से बैक्टीरियल इन्फेक्शन की आशंका नहीं होगी।

इसे भी पढ़ें –हमें सनस्क्रीन क्यों लगाना चाहिए

नाखूनों की देखभाल कैसे करें? cuticle ki care karne ka tarika

शिया या कोको बटर युक्त क्रीम, विटामिन ई ऑइल अपने क्यूटिकल्स पर रात को सोते समय लगाएं। इससे वे जल्दी ठीक होंगे।

आप चाहें, तो हाथ और पैरों के क्यूटिकल्स को हेल्दी रखने के लिए क्यूटिकल क्रीम घर पर भी बना सकती हैं। ग्रेपसीड ऑइल, लैवेंडर, नीम ऑइल, शहद और वी वैक्स सभी को मिलाएं और क्यूटिकल्स पर लगाएं।

बादाम ऑइल, लैवेंडर ऑइल, राइस ब्रान ऑइल और असेंशियल ऑइल मिला कर होममेड क्यूटिकल ऑइल बनाएं। अगर क्यूटिकल्स फटे हैं, तो असेंशियल ऑइल की जगह ट्री टी ऑइल का इस्तेमाल करें। क्यूटिकल्स फट कर घाव का रूप ले चुके हैं, तो इस तेल का प्रयोग ना करें।

इसे भी पढ़ें – घने बालों की चाहत है तो आपको इसके लिए कुछ प्रयास भी करने होंगे

वैक्सिंग करने का सही तरीका Wax Karne ka Tarika

मेनिक्योर पेडीक्योर मैजिक अब होगा घर manicure pedicure at home in hindi
Wax

हाथ व पैरों की वैक्सिग भी समय-समय पर कराएं या खुद करें। वैक्सिग करने से एक दिन पहले लूफा से स्किन स्क्रब करें। स्किन पर इनग्रो हेअर की समस्या नहीं होगी।

गरमियों में वैक्सिग के बाद एलोवेरा, गुलाब या चंदन युक्त बॉडी लोशन लगाएं। इससे स्किन में जलन कम होगी और आप बहुत जल्दी आराम महसूस करेंगी।

वैक्स खरीदते समय ध्यान रखें कि वह बहुत आर्टिफिशियल खुशबूवाला ना हो। टी, लैवेंडर, हनी, चीनी जैसी चीजों से बनी वैक्सिग अच्छी मानी जाती है। शिया या कोका बटर व ऑलिव ऑइल बेस वैक्सिग बेहतर ऑप्शन हैं।

वैक्सिग के बाद अगर हाथ-पैरों पर जलन की समस्या हो, तो वैक्सिग के बाद फ्रिज में रखे ठंडे आइस बैग्स स्किन पर रखें। आराम मिलेगा। एक मुलायम कपड़े में आइस क्यूब्स को लपेट कर भी रख सकती हैं।

इसे भी पढ़ें – होगा जादू बस ऐसे करें समर स्किन केयर रुटीन

स्किन को टैन फ्री रखने के कुछ आसान टिप्स Tan free skin tips in Hindi

भारतीय त्वचा के लिए एसपीएफ 15 युक्त क्रीम-लोशन काफी है। जब भी धूप में निकलें, 20 मिनट पहले हाथ-पैरों पर सनस्क्रीन लगा लें। लेकिन एसपीएफ का असर तभी होगा, जब इसे सही मात्रा में लगाया जाए।

आजकल बॉडी लोशन भी सनस्क्रीन युक्त मिलता है। हाथ-पैरों पर इसका प्रयोग कर सकती हैं। बहुत देर तक धूप में रहना है, तो दिन में 2 बार खुले अंगों पर सनस्क्रीन लोशन का प्रयोग करें।

अगर सनस्क्रीन लगाने पर भी स्किन टैन हो जाती है, तो धूप से लौटने के बाद दही लगाएं और 20 मिनट के बाद त्वचा धो लें। एलोवरा का फ्रेश जूस भी फायदेमंद पैक है ।

इसे भी पढ़ें – गुलाबजल गर्मियों में त्वचा में निखार लाने में कितना मददगार है ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *