जल्दी वजन कम करने के लिए पिएं ये जूस weight loss juice in Hindi

Spread the love

जूस घटाए मोटापा weight loss juice in hindi मोटापा घटाने के लिए बहुत कुछ किया है, एक बार वेजिटेबल जूस आजमा कर देखें, आईने के सामने से हट नहीं पाएंगी।

डाइटीशियन का मानना है कि वजन कम करने की चाह रखने वालों के लिए फ्रूट जूस के बजाय वेजिटेबल जूस लेना ज्यादा अच्छा रहेगा। दरअसल फ्रूट जूस में पायी जाने वाली शुगर पतलेपन की चाह रखने वालों की उम्मीदों पर पानी फेर देती है।

वजन कम करने के लिए पिएं ये जूस  weight loss juice in hindi

वेट लॉस करना है, तो मिक्स वेजिटेबल जूस लें। वेजिटेबल में पत्ता गोभी, पालक, चुकंदर, गाजर, टमाटर और खीरे को शामिल करें। 

इसे भी पढ़ें – डाइट चार्ट इन हिंदी|पतले होने के लिए क्या खाना चाहिए क्या नहीं

वेजिटेबल जूस का स्वाद कैसा होता है ? taste of vegetable juice in hindi 

वेजिटेबल जूस का स्वाद हल्का कड़वा होता है। इसलिए कोशिश करें कि कुल तैयार जूस में खीरे की मात्रा करीब 50 प्रतिशत और बाकी सभी सब्जियों की मात्रा 50 प्रतिशत हो। पत्ता गोभी और पालक के 2-3 उबले पत्ते ही जूस में शामिल करें।

वेजिटेबल जूस में चुकंदर और गाजर की मात्रा कम ही रखें। इससे शुगर की मात्रा कम रहेगी, लेकिन इसमें मौजूद  पोषक तत्व शरीर को फायदा पहुंचाएंगे।

सब्जियों का जूस कैसे बनाएं How to make vegetables juice in hindi 

vegetable juice

कुछ लोगों को वेजिटेबल जूस से गैस की शिकायत होती है। वे चाहें, तो सब्जियों को माइक्रोवेव में स्टीम करके जूस तैयार करें। कुछ लोगों को कच्ची सब्जियों का जूस नुकसान पहुंचाता है। उनके लिए भी यह विधि कारगर होगी। पत्तागोभी के कारण सब्जियों का जूस पीने से गैस बनती है, तो वेजिटेबल जूस में पत्ता गोभी को शामिल नहीं करें।

इसे भी पढ़ें – दालों के विभिन्न प्रकार और लाभ आपको ज़रूर पता होने चाहिए

जूस कब पीना चाहिए best time to drink juice in hindi

डायटीशियन बताती हैं कि वेजिटेबल जूस को सुबह लेना फायदेमंद होता है। इसे वर्कआउट करने के बाद भी लिया जा सकता है। वेजिटेबल को छान कर पीने के बजाय पूरा पिएं।

जूस पीने के फायदे और नुकसान side effects of vegetable juice in hindi

पोलिसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम से परेशान युवतियां फलों का जूस लेने के बजाय सब्जियों का जूस लें। उनके लिए सोया मिल्क फायदेमंद होता है। 

थायराइड की समस्या हो, तो सब्जियों का जूस फायदेमंद होगा। अकसर लोगों को यह लगता है कि एनीमिया का कारण शरीर में आयरन की कमी है। लेकिन हमेशा ऐसा हो जरूरी नहीं है। 

आयरन की सही मात्रा को शरीर में बनाए रखने के लिए विटामिन सी का होना भी जरूरी है। इसके लिए विटामिन सी से भरपूर फल जैसे संतरा, अनानास को खाने में शामिल करें।

इसे भी पढ़ें – करक्यूमिन के फायदे, हल्दी के अर्क में मिलने वाला करक्यूमिन है एक चमत्कारी औषद्यि

वेजिटेबल जूस कब पीना चाहिए best time to drink vegetable juice in hindi

जल्दी वजन कम करने के लिए पिएं ये जूस weight loss juice in Hindi
juice

 सब्जियों के जूस को भूख लगने पर कभी भी लिया जा सकता है। oddstree भी एक वेजिटेबल जूस की रेसिपी का सुझाव दे रही हैं। इस जूस में धनिया, पोदीना, आंवला, टमाटर, गाजर और बींस को शामिल करें। सौ से 150 मि.ली. जूस लें। 

जूस लेने का सबसे अच्छा समय ब्रेकफास्ट या फिर दोपहर से थोड़ा पहले होता है।

हमेशा फ्रेश वेजिटेबल जूस ही लें।

प्रेगनेंसी में कोनसा जूस पीना चाहिए best juice during pregnancy in hindi

गर्भावस्था के दौरान महिलाएं गाजर, चुकंदर, आंवला और टमाटर का जूस लें, तो उनकी सेहत अच्छी रहेगी।

फलों का जूस पीने से गैस की समस्या हो रही है, तो रोजाना एक्सरसाइज करें या फिर वेजिटेबल सूप लें।

वजन कम करने के आयुर्वेदिक उपाय ayurvedic remedy for weight loss

  • एक चम्मच त्रिफला चूर्ण को रात्रि में 200 मि.ली. पानी में भिगो कर रखें। सुबह इसे उबालें। उबालने के बाद जब आधा शेष रह जाए, तो इसे छान लें। इसमें 2 चम्मच शहद मिला कर गरम-गरम पी लें। कुछ दिनों के सेवन से वजन कम हो जाएगा।
  • सुबह, दोपहर और सायंकाल अश्वगंधा के पत्ते को हाथ में मसल कर गोली बना लें। भोजन से 1 घंटा पहले या खाली पेट पानी के साथ लें। 
  • एक सप्ताह के नियमित सेवन के साथ ही फल, सब्जियों, दूध, छाछ और जूस पर रहते हुए कई किलो वजन कम किया जा सकता है। यह उपाय मोटापे के अलावा मधुमेह और हृदय रोग में भी काफी असरदार होगा। इसे आजमाया जा सकता है।

सब्जियों का जूस के फायदे benefits of vegetable juice in hindi

  • फ्रेश वेजिटेबल जूस को विटामिन की गोलियों से कम नहीं समझें।
  • इसमें सेचुरेटेड फैट और अतिरिक्त सोडियम होता है, इसलिए यह कोलेस्ट्रॉल को कम रखने में मददगार होता है।
  • कुकिंग में वेजिटेबल जूस का इस्तेमाल ग्रेवी बनाने के लिए करें।
  • वेजिटेबल जूस का रंग फीका होने से बचाने के लिए उसमें नीबू की कुछ बूंदें डाल दें।

इसे भी पढ़ें –गोंद के लड्डू ताकत से भरपूर सुस्ती रक्खे दूर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *